Friday, December 31, 2010

नव वर्ष की मंगलकामनाएं, बकौल पंत जी


नए साल की कविता

  
वर्ष नव,
हर्ष नव
जीवन उत्कर्ष नव
नव उमंग
नव तरंग
जीवन का नव प्रसंग
नवल चाह
नवल राह
जीवन का नव प्रवाह
गीत नवल
प्रीति नवल
जीवन की रीति नवल
जीवन की नीति नवल
जीवन की जीत नवल  


---पंत



1 comment:

राज भाटिय़ा said...

आप को परिवार समेत नये वर्ष की शुभकामनाये.
नये साल का उपहार
http://blogparivaar.blogspot.com/