Saturday, December 8, 2007

खाई की तस्वीरें

खाई की तस्वीरें



कुछ चीज़े आपको हमेशा परेशान करती रहतीं हैं, हम सबको हमारे बच्चों को परेशान करती रहती हैं। मेरे एक मित्र ने कुछ तस्वीरे भेजी हैं, उन्हें आभार देते हुए तस्वीरें छाप रहा हूं, विचार कीजिएगा-


5 comments:

बाल किशन said...

क्या बताएं साहब आपने तो विचलित कर दिया.

anuradha said...

जिन्दगी के कई रुप हैं। पर ये वाकई दर्दनाक है।

कीर्तिश भट्ट said...

वाकई सोचने पर मजबूर कर देती हैं ये तस्वीरें और आपकी पोस्ट. आपसे पहली बार संवाद हो रहा है. आगे भी जारी रहेगा. धन्यवाद.

अजय रोहिला said...

भाई साहब ऐसी तस्वीर अपने देश में भी बहुत मिल जाएगी। उन्हें प्रकाशित करें तो ज्यादा असरदार होगी।

अजय रोहिला said...

वो डरावनी दुनिया सात समुन्दर पार है वहां का सच सभी जानते है कि क्या हालात है...यहां से कोई कर कुछ नही सकता..हां केवल अपनी कुछ रातों की नींद जरुर हराम कर लेंगे।....और जब भी ग्रीन भेजी‍टेबल खाउगा...ये खाली कटोरा ही नज़रो के सामने आयेगा।