Wednesday, June 18, 2008

तपन सिन्हा को लाईफ टाईम अचीवमेंट

ताजा समाचार ये है कि इस बार भारत का पहला लाईफ़ टाइम अचीवमेंट पुरस्कार तपन सिन्हा को दिया जाएगा। २० जून को पश्चिम बंगाल के राज्यपाल गोपाल कृष्ण गांधी न्यू अलीपुर के उनके मकान पर जाकर उन्हें ये पुरसकार देंगे। साथ में सूचना और प्रसारण मंत्री प्रिय रंजन दास मुंशी भी होंगे। लाईफ टाईम अचीवमेंट श्रेणी को पहली बार राष्ट्रीय पुरस्करों में शामिल किया गया है। और भारत की आजा़दी की साठवीं सालगिरह पर इसे शुरु किया गया है।

तपन सिन्हा की पहली फिल्म उपहार थी जो १९५५ में रिलीज़ हुई थी। १९५६ मे रिलीज़ हुई फिल्म काबुलीवाला दूसरी फिल्म थी।इसके गाने तो आज तक लोगो की ज़बान पर हैं। इसके अलावा एक डॉक्टर की मौत, सगीना और आदमी और औरत तपन दा की बेहतरीन फिल्मों में गिनी जाती हैँ। आपने बावर्ची जैसी कई फिल्मों की कहानी भी लिखी है।

1 comment:

smita mishra said...

अच्छा लगा सिनेमा के भुला दिए गए लोगो को आपने याद किया,चाहे समाचार के ज़रिये ही सही